Logo text

होम » कार्यक्रम » एफपीएम » छात्रों के प्रशंसा पत्र

छात्रों के प्रशंसापत्र

 

"पहली और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि कार्यक्रम में केवल उसकी प्रकृति और उद्देश्यों के बारे में स्पष्टता होने पर ही शामिल होना चाहिए। यह उनके लिए नहीं है, जिन्होंने उनके भविष्य के कैरियर पथ के बारे में अभी तक फैसला नहीं किया है। यहाँ जिस पल से आप कार्यक्रम में जुड़ते हैं, उसी पल से लेकर स्नातक बनने तक छात्र की प्रतिबद्धता बहुत आवश्यक है। यह एक ऐसा सक्षम कार्यक्रम है, जो आपको विभिन्न क्षेत्रों की खोज करने और नए हितों का विकास करने में मदद करता है। पाठ्यक्रम छात्र को अलग दृष्टिकोण से क्षेत्र में देखने में सक्षम बनाता है, और ज्ञान के एकीकरण की सुविधा उपलब्ध कराता है।"
- प्रबल वी सिंह (प्रतिनिधि), तीसरा वर्ष (पी एस जी क्षेत्र)
शैक्षिक योग्यता: एम बी ए (अस्पताल प्रशासन), देवी अहिल्या विश्वविद्यालय


"मुझे पहले ही दिन से एक शोधकर्ता की तरह सोचने के लिए प्रेरित किया गया था। प्रथम वर्ष ने मुझे एक प्रबंधक की तरह सोचना सिखाया। यह भी देखा गया है कि प्रतियोगिता से श्रेष्ठ और खराब, दोनों ही प्रकाश में आते हैं। अभी तक मेरी इस यात्रा के दूसरे चरण (द्वीतिय वर्ष) में  अपेक्षा से अधिक काम था, जैसे कि, काम के बोझ से निपटना, असमान अवधारणाओं को समझना और मिलाना, पारिवारीक जीवन से संतुलन  करके मेरे व्यवसायी दायित्व के पूरा करना आदि। पहले दो वर्षों में एक अद्भुत और चुनौतीपूर्ण काम किया था, जो अधिक से अधिक कॉर्पोरेट सेक्टर में मेरे पिछले जीवन को आगे बढाता है। "

-रामेन्द्र सिंह, तृतीय वर्ष (विपणन क्षेत्र)
शैक्षिक योग्यता: पी जी डी बी एम, एक्स एल आर आई, जमशेदपुर


"एफ पी एम को बेशक सबसे अच्छा, कठिन और हर कदम पर समर्पणशिक्षा के अनुभव के साथ हॉलमार्क यात्रा के रूप में वर्णित किया जा सकता है। यह मजबूत अकादमिक केंद्र बिन्दु के साथ एक व्यापक कार्यक्रम है। उच्च शैक्षिक मानकों और एक शोधकर्ता के रूप में कठिन प्रशिक्षण अपनी क्षमता का सबसे अच्छा उपयोग करने में छात्रों की मदद करते हैं। यह कार्यक्रम छात्रों को प्रबंधन के क्षेत्र से संबंधित विभिन्न जटिल मुद्दों का प्रकटीकरण प्रदान करता है और अपनी पर्याप्त जिज्ञासा से चुने हुए क्षेत्रों की खोज करने का आह्वान देता है। यह छात्रों के लिए एक मंच भी प्रदान करता है, जहाँ छात्र अपने क्षेत्रों में अन्य शोधकर्ताओं के साथ उनके शैक्षिक विचारों को बाँट सकते हैं। श्रेष्ठतम सुविधाओं, अनुसंधान के लिए एक अनुकूल वातावरण और प्रतिष्ठित संकाय के समर्थन से शिक्षा की प्रक्रिया सँवर जाती है। यह कार्यक्रम अकादमी, अनुसंधान और अभ्यास के क्षेत्र में छात्रों के लिए विपुल अवसर प्रदान करता है।"

- ऋचा सक्सेना, चतुर्थ वर्ष (ओ बी क्षेत्र)
शैक्षिक योग्यता: एम बी ए, देवी अहिल्या विश्वविद्यालय


"यह कार्यक्रम आपको धैर्य और दृढ़ता के महत्व को सिखाता है, भावना के लिए सभी बाधाओं के साथ और खुद के खिलाफ लड़ना सीखाता है। यह हमें गंभीर विश्लेषण करने की क्षमता देता है, उन्हें उचित परिप्रेक्ष्य में रखना सीखाता है, एक संरचना सीखाता है और अधिक महत्वपूर्ण रूप से यह खोज का आनंद देता है तथा बुद्धि और ज्ञान के लिए योगदान सीखाता है।"

- संजीव त्रिपाठी, तृतीय वर्ष (विपणन क्षेत्र)

शैक्षिक योग्यता: बी.ई. (मैकेनिकल), भारतीय मैकेनिकल और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग संस्थान।

 

"अगर मैं आइ आइ एम-ए में व्यतीत किये गये पिछले एक वर्ष को याद करुँ तो यही कहूँगा कि वह पूरा वर्ष शिक्षा से भरपूर रहा है। हर एक दिन मेरी बुद्धि, ज्ञान और कौशल में वृद्धि हुई है। मुझे आश्चर्य है कि हर अगले दिन का कार्यभार असंभव सा था और एक दिन के चौबीस घंटे काफ़ी अपर्याप्त थे, ऐसे में यह कैसे हो पाया..! लेकिन इस कार्यक्रम को डिजाइन ही ऐसे किया गया है कि परिसर में व्यतीत हर मिनट और एफ पी एम कार्यक्रम के तहत हर दिन सिर्फ़ और सिर्फ़ शिक्षा से भरा हुआ रहता है डॉक्टरेट छात्र होने से हमें संकाय से, शिक्षा के अनुभव को मूल्यवान और सुखद बनाने के लिए मिलने वाला समर्थन सराहनीय है और यह  कह कर मैं गर्व महसूस करता    हूँ।"

- प्रसून अग्रवाल, द्वितीय वर्ष (पी एस जी क्षेत्र)

शैक्षिक योग्यता: बी टेक. (मैकेनिकल), आई टी बी एच यू, वाराणसी 

 

Listen

"एक एफ पी एम छात्र होना अर्थात एक क्रांतिकारी होने की तरह है। जीवन की सभी साधारणताओं से आप इस प्रकार मुक्त हो जाते हैं, कि जैसे आप वास्तव में सर्वोच्च वर्ग के शीर्ष शिक्षाविदों में से एक बनने की पवित्र खोज में लग जाते हैं।"
- राहुल कुमार सेठ, तृतीय वर्ष (विपणन क्षेत्र)
शैक्षिक योग्यता: बी टेक (इलेक्ट्रॉनिक्स एवं टेलिकम्यूनिकेशन इंजी), कल्याणी विश्वविद्यालय।

 

"संकाय हमेशा हमारी मदद करने के लिए तैयार रहते हैं। छात्रों का एक दूसरे के साथ सौहार्द अभूतपूर्व है और हमें छात्र जीवन की गुणवत्ता हमेशा के लिए संजोये रखती है।"

- अरिंदम सेन, पाँचवाँ वर्ष (कृषि क्षेत्र)
शैक्षिक योग्यता: बी वी एस सी और ए एच, पश्चिम बंगाल पशु और मत्स्य विज्ञान विश्वविद्यालय।

"इतने वर्षों में, हमने अपने छात्रों को अकादमिक क्षेत्र के साथ- साथ उद्योग क्षेत्र में भी अच्छी तरह से पनपते देखा है। उम्मीदवारों में से शॉर्ट लिस्टिंग, साक्षात्कार और चयन  द्वारा सबसे अच्छे को चुनने की कठिन प्रक्रिया भी अधिक जटिल होती जा रही है। हम जिस अनुसंधान के उन्मुख रहते हैं उसके लिए सर्वश्रेष्ठ छात्रों का चयन करते हैं और उन सभी का अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने की दिशा में समर्थन करके प्रोत्साहन प्रदान करते हैं।"

- के वी रामचंद्रन (प्रभारी), एफ पी एम।