Logo text

होम » कार्यक्रम » पीजीपी-एबीएम » कैरियर प्रभाव

कैरियर प्रभाव

  पी जी पी-एबीएम 

कृषि-व्यवसाय प्रबंधन में स्नातकोत्तर कार्यक्रम (पीजीपी-एबीएम) को यह सुनिश्चित करने के लिए बनाया गया है कि इससे उच्चतम अंतरराष्ट्रीय मानकों को पूरा किया जा सके, और यह उच्च गुणवत्ता युक्त है और वास्तविक जगत् से सीधे ही प्रासंगिक है। अत्यधिक बाजारोन्मुख वातावरण में काम के प्रति बढ़ती पर्यावरणीय चिंताओं एवं चुनौतियों के प्रति कृषि-खाद्य उद्योग नीतियों में परिवर्तन और इन बदलावों के लिए जिम्मेदारी के संदर्भ में गतिशील होने की आवश्यकता है। नवीन कौशलों के साथ-साथ, जो लोग इस उद्योग में कार्य कर रहे हैं उन्हें प्रबंधन कौशलों की एक श्रृंखला, नीतिगत पर्यावरण का परिचय, और एक रणनीतिक दृष्टिकोण की आवश्यकता है। यह गतिशील उद्योग में मुख्य परिवर्तन के दुरूह कार्य के लिए और इन परिवर्तनों की प्रक्रिया का प्रबंधन करने के लिए पीजीपी-एबीएम छात्रों को तैयार करता है। संकाय, कर्मचारियों, पूर्वछात्रों और कॉरपोरेट भागीदारों के एक सशक्त सम्मिश्रण के साथ एकसाथ कार्य करते हुए व्यवसाय शिक्षा में उत्कृष्टता प्राप्त करने की दिशा में यह कार्यक्रम सर्वोत्तम है, इससे कृषि-व्यवसाय में अनंत संभावनाओं को खोज निकालने के मामले में उत्तम पेशकश होती है। यह कार्यक्रम छात्रों को कृषि-व्यवसाय मूल्य श्रृंखला के लिए तैयार करता है जबकि विशेष रूप से निम्नानुसार के प्रयास करता है :     

छात्रों का दृष्टिकोण व्यापक बनाता है और उनमें व्यावसायिकता, अखंडता, नैतिकता, और सामाजिक प्रतिबद्धता के मूल्यों को पैदा करता है।

अनिवार्य रूप से यह कार्यक्रम भारत में कृषि-व्यवसाय प्रस्तुतियों की अपार क्षमता के लाभ उठाने और नेतृत्व करने के लिए छात्रों को प्रशिक्षित करता है।