Logo text

होम » कार्यक्रम » पीजीपीएक्स » कैरियर प्रभाव

कैरियर प्रभाव

आई आई एम-ए ने 2006 में अनुभवी प्रबंधकों और अधिकारियों के लिए एक वर्ष के पूर्ण समय के  प्रबंधन में आवासीय कार्यक्रम के तौर पर शुरुआत की थी, जिसका पहला बैच 2007 में स्नातक हुआ। अपने कैरियर के पथ में तेजी लाने, परिवर्तन लाने और नए उपक्रम का पता लगाने के लिए जो अधिकारी कई बार एक औपचारिक प्रबंधन की डिग्री की आवश्यकता महसूस करते थे उनको ध्यान में रखकर यह कार्यक्रम बनाया गया था। 


  इस कार्यक्रम का उद्देश्य विश्वस्तर के परिवर्तनों का वहन करते हुए प्रशिक्षण अभ्यास करना है। यह कार्यक्रम सीमाओं और संस्कृतियों भर में प्रबंध पर जोर देने के साथ एक सामान्य प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित करता है। कार्यक्रम के अनुकूलित क्षेत्र यह सुनिश्चित करते हैं कि छात्र जरुरत से ज़्यादा सुसज्जित, ज्ञान और कौशल के साथ सशक्त नेतृत्व की स्थिति प्राप्त करने के लिए तथा उनके संगठनों के लिए जटिल परिस्थितियों के माध्यम से मूल्यांकित करने में सक्षम हैं। पाँचवें बैच के छात्र अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आयोजित एक कठिन प्रवेश प्रक्रिया के माध्यम से चुने गये थे। क्षेत्रों की एक किस्म में 10.5 वर्ष की औसत के अनुभव और 712 के औसत से जीमैट (पिछले बैच बहुत समान हैं) के साथ इस कार्यक्रम के छात्रों का प्रोफ़ाइल अगर सबसे अच्छा नहीं है, तो भी दुनिया में निश्चित रूप से बहुत अच्छा है। एक उचित समयावधि के लिए शिक्षाविदों से दूर होने के बावजूद छात्रों को आई आई एम-ए की प्रसिद्ध बौद्धिक सख़्तता को झेलना और उसे पूरा करना आवश्यक है। मैं मानता हूँ कि, एक व्यवसायिक विचारविमर्श के आधार पर यह कार्यक्रम सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के संगठनों में ग्राहक खंड के लिए सबसे अच्छा है और विभिन्न विषयों को सम्मिलित करते हुए पंद्रह संकाय सदस्यों से बना मजबूत आई आई एम-ए दुनिया में अद्वितीय है।

    वरिष्ठ प्रबंधकों और सलाहकार से लेकर सामान्य प्रबंधकों और मुख्य कार्यकारी अधिकारियों तक- मध्यम और वरिष्ठ स्तर पर प्रबंधन प्रतिभा की जरूरत में इन बैचों से हुए स्नातकों का कार्पोरेट घरानों के द्वारा स्वागत किया गया है। इससे हमारी मौलिक मान्यताओं को यह पुष्टि मिलती है कि मध्यम और वरिष्ठ प्रबंधन स्तर पर दुनिया भर में सभी संगठनों के मूल्य जोड़ने के लिए एक कार्यक्रम की जरूरत थी। वर्तमान वर्ग उद्योगों, विविध सशस्त्र बलों, सरकार, आई टी / आई टी ई एस, परामर्श, बैंकिंग, एफ एम सी जी, विनिर्माण, दूरसंचार, और मीडिया सहित रेंज का प्रतिनिधित्व करता है

कार्यक्रम के अध्यक्ष के रूप में, मैं और अधिक सहमत हूँ कि पी जी पी एक्स के स्नातक जिन संगठनों में जाने का निर्णय करते है, उन संगठन में जबरदस्त मूल्यों में वृद्धी करेंगे।

प्रोफेसर शैलेष गाँधी,
अध्यक्ष, पी जी पी एक्स