Logo text

होम » आईआईएमए के केस

आई आई एम-ए केस पद्धति

 
प्रबंधन और नेतृत्व की चुनौतियों के लिए प्रतिभागी तैयार करना इस संस्थान का लक्ष्य है। प्रबंधन और नेतृत्व के लिए आवश्यक कौशल सीखने में केस विधि एक सबसे शक्तिशाली तरीका है।

केसों का विश्लेषण करने से प्रबंधकों को नित्य रूप से जिन दुविधाओं का सामना करना पड़ता है, उनसे निपटने के लिए ठीक ठीक निर्णय लेने का छात्रों को बल मिलता है। उदाहरण के लिए, प्रोफेसर ज्ञान बाँटते है और छात्र परोक्ष रूप से उसे प्राप्त करते है। ऐसे समय में व्याख्यान में परंपरागत शैक्षिक गतिशीलता निहित होने के बावजूद, केस पद्धति से वर्गखंड का माहौल खड़ा होता है जिसमें छात्रों को केवल अवशोषित तथ्यों और सिद्धांतों से ही नहीं, बल्कि वास्तविक समस्याओं का सामना करने के कौशल की कसरत से विश्लेषण, संश्लेषण, नेतृत्व और एक साथ काम करने में सफलता मिलती है। एक संकाय सदस्य के मार्गदर्शन के अंतर्गत, सारे छात्र विश्लेषण और परस्पर विरोधी डेटा व दृष्टि बिंदु का संमिश्रण करने के लिए, लक्ष्यों को परिभाषित करने के लिए और प्राथमिकता देने के लिए, जो लोग अलग तरीके से सोचते हैं उनको मनाने के लिए, स्थितियों के अनुसार सोचने के लिए, अपूर्ण और अनिश्चित जानकारी के साथ निर्णय लेने के लिए और निर्णय के निहितार्थ की जाँच के लिए कार्य करते हैं। केस विधि से हम 'अभियान शिक्षा' से अच्छी तरह से उन्मुख होते है। तेजी से अब नियोक्ताओं द्वारा इसे भी उम्मीदवारों की जाँच के लिए अपनाया गया है।

कई केस जो कि संस्थान पैदा करता है, उनमें से इस्तेमाल भी करता है। 60 से अधिक प्रतिशत कक्षाएँ केस विधि या एक संस्करण पर बनायी गयी हैं। यह जहाँ उचित है वहाँ व्याख्यान, अनुकार, क्षेत्र कार्य, स्वतंत्र अनुसंधान परियोजनाएँ, भूमिका और उचित रूप में शिक्षण के अन्य रूपों का भी उपयोग करता है, फिर भी, केस विधि शिक्षा शास्त्र के ही प्रमुख रूप में रहता है।

हमारी केस सामग्री ऑनलाइन खरीदने के लिए, कृपया हमारी इस नई वेबसाइट का सम्पर्क करें  IIMA CASES (cases.iima.ac.in)

 

मूल्य की जानकारी देखने के लिए, कृपया यहाँ क्लिक करें।


केस विधि के बारे में कोई प्रश्न हों या प्रतिक्रिया हो तो कृपया केस इकाई से संपर्क करें।

दूरभाष : 91-79-66324965-67

ई-मेल  : Turn on JavaScript!