Logo text

होम » संस्थान » परिसर » छात्र गतिविधियाँ » घटनाएँ » टैलेंट नाइट

टैलेंट नाइट

टैलेंट नाइट (टी-नाइट) – अगस्त के मध्य में

टैलेंट नाईट इवैंट के लिए यकीनन पहले सेमेस्टर से ही सब उत्सुकता से प्रतीक्षा करते हैं। आई आई एम अहमदाबाद के शैक्षणिक वर्ष में सबसे स्थायी और पोषित यादों में रहने वाला एक इवैंट यह भी है, जो उस में भाग ले रहे दर्शकों को आकर्षित करते नवागंतुक और वरिष्ठ, दोनों छात्रों के लिए यादगार बन जाता है। इसमें अंतर-अनुभागीय सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं का एक सप्ताह का लंबा उत्सव शामिल है। यही एक समय है, जब इसमें अनुभाग संबंध विकसित होते हैं और छात्र जीवनकाल के आखिर तक के दोस्त बन जाते हैं।

टी - नाईट उत्सव प्रचार चलाने के दौरान परिसर में सुविधाजनक स्थानों पर कब्जा करने और उन्हें रंगीन पोस्टरों और न्यूज़लेटर्स के साथ भरने के लिए पागलपन युक्त भगदड़ के साथ शुरू होता है। पूरे संस्थान की प्रत्येक दीवार को स्वागत योग्य बनाने के लिए छात्रों की रचनात्मकता और बुद्धि की गवाही के साथ एक रंगीन कोलाज में बदल दिया जाता है।

संगीत और सांस्कृतिक घटनाओं की मेजबानी भोजनालय में हर रात की जाती है। लुई काह्न प्लाजा (एलकेपीऔर वहाँ का रैंप गतिविधियों का एक छत्रक बन जाता है, जहाँ प्रथम वर्ष के छात्र प्रहसन, संगीत, नृत्य और गीतों के माध्यम से प्रचुर मात्रा में अपने कौशल का प्रदर्शन करते हैं। टी नाईट में अंतिम रात एक आठ घंटे की मैराथन है, जहाँ प्रत्येक सेक्शन को मनोरंजन तमाशा प्रस्तुत करने के लिए दो घंटे आवंटित किये जाते हैं। इसमें वर्ग का प्रतिनिधित्व करता अभिनय, फैशन परेड और अनुभाग के सभी छात्रों का एक साथ अभिनय प्रदर्शन आदि किया जाता है।

ऐसी परंपरा है कि आई आई एम- की टी-नाइट लंबे समय तक दीमाग पर छा जाती है, जिसकी अंतिम रात्रि को पूर्व छात्र हर साल देखने के लिए वापस आते हैं और उत्साहपूर्वक उनके वर्गों के लिए जयकार करते हैं, जैसे कि वे फिर से छात्र बन गये हों और यही उस बात की गवाही है कि टी-नाइट का छात्रों में कितना महत्त्व है। जैसे जैसे इवैंट समाप्त होने के कगार पर आते है, वैसे वैसे जीतना और हारना तुच्छ बन बन जाता है। आजीवन यादों में रह जाता है वह है सिर्फ दोस्ती और उसकी भूली बिसरी यादें।