Logo text

होम » संस्थान » आईआईएम-ए के बारे में » प्रमुख तथ्य » इतिहास समयरेखा

इतिहास समयरेखा
1960 - जन्म का दशक
- आई आई एम-ए ज्ञान,तकनीक,उपकरण और अवधारणाओं को प्राप्त करने से ऊपर उठा जिसका अपने आप में कोई अंत नहीं हैं
- प्रबंधन में उत्कृष्टता प्राप्त करते समय सामाजिक उद्देश्य पर ध्यान केंद्रित करना
- शिक्षण,अनुसंधान और परामर्श जैसे महत्वपूर्ण गतिविधियों को एकीकृत करना
- 3 टायर प्रबंधन विकास कार्यक्रम की शुरूआत

 

1970 - विकास का दशक
- संस्थान को व्यापक पहचान मिलना
- सभी गतिविधियों में वृद्धि
- संकाय क्षमता 65 हुई
- स्नातकोत्तर कार्यक्रम में प्रतिभागियों की संख्या में वृद्धि
- स्नातकोत्तर कार्यक्रम में प्रतिभागियों की संख्या में वृद्धि
- नए प्रबंधन विकास कार्यक्रमों की शुरूआत

 

 

1980 - परिवर्तन का दशक
- संस्थान को देश भर में प्रमुख प्रबंधन स्कूल के रूप में पहचान प्राप्त हई और अपनी सीमाएँ एवं पहुंच बढ़ाई
- कम प्रबंधित क्षेत्रों पर अधिक ध्यान केंद्रित करना
- तीन नए समूहों की स्थापना: औद्योगिक नीति प्रबंधन समूह, अंतरराष्ट्रीय प्रबंधन समूह एवं उद्यमिता समूह
- संकाय विकास कार्यक्रम का परिचय 

 

1990 - एकीकरण का दशक
- संस्थान द्वारा पिछले दशकों की पर्याप्त वृद्धि पर ध्यान देना और अपनी गतिविधियों एवं स्थिति को मजबूत बनाने पर ध्यान केंद्रित करना
- पूरे परिसर में इंट्रानेट और इंटरनेट की लीज लाइन के साथ संस्थान की आईटी अवसंरचना में वृद्धि 
-एशिया प्रशांत क्षेत्र की पाँच शीर्ष व्यावसायिक स्कूलों के रूप में मान्यता प्राप्त होना
- विदेश की सम्मानित बिजनेस स्कूलों के साथ छात्रों का आदान-प्रदान
- इस दशक के दौरान संस्थान के प्रमुख शब्द अंतरराष्ट्रीयकरण और विकास हैं
- पूर्णकालिक अंतरराष्ट्रीय छात्रों को स्वीकार करने पर जोर देने के साथ छात्रों की संख्या में वृद्धि
- संस्थान के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी विकास कार्यक्रमों को समायोजित करने के लिए परिसर में विस्तार